नियति जन्य प्रहार - विश्वहिंदीजन

अभी अभी

अंतरराष्ट्रीय हिंदी संस्था एवं हिंदी भाषा सामग्री का ई संग्रहालय

अपील

सामग्री की रिकॉर्डिंग सुनने हेतु नीचे यूट्यूब बटन पर क्लिक करें-

समर्थक

पुस्तक प्रकाशन सूचना

सोमवार, 2 अक्तूबर 2017

नियति जन्य प्रहार

नियति जन्य प्रहार कभी, भीषण निर्मम क्रूर
हो जाते क्षण में  सभी , सपने चकना चूर !!!
-ओंम प्रकाश नौटियाल

एक टिप्पणी भेजें